She behind shi -Thai Lee अरबपति महिला का जीवन in hindi

 

Who is she behind  shi ???

अमेरिका की सबसे प्रभावशाली बिज़नेस वूमेन में एक नाम आता है थायी ली  Thai Lee .  वे अमेरिका के  राज्य Texas में रहती हैं । वे अमेरिका की महिला स्वामित्व वाली सबसे बड़ी  अरबपति कंपनी की CEO  व प्रेजिडेंट हैं । उनकी कंपनी का नाम है  shi   ( Software House International ).  यह बिज़नेस Thai Lee ने  बड़ी मेहनत से पिछले 27 साल में तयार किया है ।आज उनकी कम्पनी में हज़ारों कर्मचारी काम करते हैं । उनकी कम्पनी का आज 7.5 अरब डॉलर का कारोबार है ।

Thai Lee, shi CEO
Thai Lee, shi CEO

थायी ली का जन्म  1958 में थाईलैंड के बैंकाक में हुआ । इन्होंने बायोलॉजी और इकोनॉमिक्स में बीए किया । उसके बाद एक ऑटोपार्ट्स कंपनी में नौकरी कर ली । लेकिन वे अमेरिका जाना चाहती थीं । इसलिए नौकरी करते हुए बचत की और MBA करने अमेरिका पहुंच गई । हारवर्ड यूनिवर्सिटी से MBA किया । इसके बाद 2-3 साल तक नौकरी की । लेकिन उन्हें हमेशा लगता था कि अपना बिज़नेस ही  करना चाहिए । उन्होंने साथ साथ  बिज़नेस के बारे में जानना व सीखना शुरू कर दिया ।

1989 में उनकी शादी लियो कोगुन से हो गयी । दोनों ही बिज़नेस करना चाहते थे । पता चला कि न्यूजर्सी की एक सॉफ्टवेयर कंपनी अपना बिजनेस बेच रही है । इसके कस्टमर्स की संख्या बहुत कम थी । पति पत्नी ने अपनी बचत व लोन का सहारा लिया ,  10 लाख डॉलर से ये कंपनी खरीद ली । कंपनी का नाम रखा shi (  software house international )

शादी ज़्यादा देर तक नही चली  , 2002 में उनका तलाक हो गया।  लेकिन पार्टनरशिप बरकरार रखी ।  आज भी लियो कोगुन कंपनी में 40 प्रतिशत के हिस्सेदार हैं ।

थायी ली , जो एक  प्रेरणादायक महिला हैं , के जीवन से हम काफी कुछ सीख सकते हैं ।

1.   Be focussed

थायी ली  Thai Lee हमेशा अपनी ज़िंदगी मे केंद्रित (focussed) रहीं । पढ़ाई करते समय भी उनके मन मे बिज़नेस करने का जज़्बा था । वे नौकरी नही करना चाहती थीं। इसलिए उन्होंने पढ़ाई के साथ साथ ही बिज़नेस के बारे में सीखना शुरू कर दिया था ।

तो जीवन मे सफल होने का ये एक महत्वपूर्ण मंत्र है कि अपने आप को अपने goal पर केंद्रित रखें ।  सोते जागते उसी goal  के बारे में सोचिये ,  सीखिए  और रुकिए मत जब तक आप सफल न हो जाएं ।

💥💥💥

2.  Value the people

Thai Lee अपनी कंपनी के कर्मचारियों का बहुत सम्मान करती हैं व उनका ख्याल भी रखती हैं ।  वे अपने आफिस में ऐसा working  environment देती हैं कि सब खुश व उत्साहित रहते हैं । उन्होंने  अपने कर्मचारियों से कहा कि आप ऐसा मान कर काम कीजिये जैसे आप ही कम्पनी के प्रेसिडेंट हैं । उनका यह तरीका बहुत कारगर साबित हुआ ।

ज़िन्दगी में हर इंसान का सम्मान उतना ही कीजिये जितना आप अपना चाहते हैं ।

💥💥💥

3. Take charge of  yourself

अरबपति बनने के बावजूद  Thai Lee अपनी लाइफ के छोटे छोटे काम खुद करना ही पसंद करती हैं , जैसे खुद आफिस जाना व अपनी फ्लाइट की टिकट् खुद बुक कराना।

ये एक ऐसी चीज़ है जो हम सभी को सीखनी चाहिए । अपने कार्य खुद करके आप अपनी लाइफ में  एक बेहतर संयम ला सकते हैं , और इन छोटे छोटे कार्यों से आया संयम आपकी लाइफ में सम्पूर्ण रूप से एक असीम संयम लाने में मदद कर सकता है ।

अपनी ज़िंदगी का चार्ज खुद संभालिये।

💥💥💥

4.  Long vision & Hard work

थायी ली Thai Lee  ने जब कंपनी को खरीदा तो वो एक संघर्ष से गुज़र रही कंपनी थी । उसके कस्टमर्स भी ज़्यादा नही थे । पर  थायी ली  ने अपनी दूरदृष्टि , अपनी मेहनत के बलबूते पर उस कंपनी को एक अरबपति कम्पनी में बदल कर रख दिया  । आज उनकी कंपनी दुनिया की सबसे बड़ी कम्पनियों में से एक गिनी जाती है ।

मेहनत व लगन से ही आप अपने सपनों को सच्चाई में बदल सकते हैं 

💥💥💥

5. Take risks

Thai Lee ने बहुत बड़ा risk उठाया जब उन्होंने लोन लेकर एक ऐसी कम्पनी खरीद ली जो बहुत अच्छी नही चल रही थी । अगर वो सोचने बैठ जाती कि इसमें बहुत खतरा है , अगर कम्पनी  डूब गई तो क्या होगा , अगर लोन न उतार पाए तो क्या होगा , अगर ऐसे ही सोचते रह जाती तो  थायी ली शायद आज भी नौकरी कर रही होती । शायद उनका बिज़नेस करने का सपना सिर्फ सपना बनकर ही रह जाता ।

ज़िन्दगी में risk  तो उठाने ही  पड़ेंगे अगर आप कुछ हटकर करना चाहते हैं ।

क्या हम वाकई ऐसी महिलायों से कुछ सीख प्राप्त कर सकते हैं ?

 

Author: Monika

Hi, I am Monika, a teacher by profession and a part time blogger by interest. I share my thoughts about life here at AluBhujia . You can find my thoughts in Hindi as well as English language. To me , life is love, life is helping each other & learning from each other.

2 Replies to “She behind shi -Thai Lee अरबपति महिला का जीवन in hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar