Problems versus positive thinking

WHEN PROBLEMS COME IN OUR LIVES

हम सब के जीवन में problems आती हैं …..कई बार तो हम दूसरों के पास मदद के लिए जाते हैं हमे 3 तरह के लोग मिलते हैं ….
1. वे हमारी problem सुनते हैं, sympathy देते हैं और अपने रास्ते चले जाते हैं
2. कुछ कहते हैं के वो मदद करेंगे पर करते नहीं
३.कुछ लोग सीधा सीधा ही कह देते हैं के वो कुछ मदद नहीं कर पाएंगे
हम घबरा जाते हैं और अपनी problem को लेकर frustrate होने लगते हैं

सबसे पहले तो आप दूसरों से मदद expect करना ही छोड़ दें …….यह संसार एक रंगमंच है और यहाँ लोगों की बहुत variety है..सब अपने अपने तरीके से जीते हैं और जीते रहेंगे

शायद आपको लगता हो के आपकी problem बहुत बड़ी है तो दूसरों को अपने आप आपकी तरफ गौर करना चाहिए …….ऐसा नहीं होगा ….कभी नहीं….

अपने मन में आप ठान लीजिये के मैं अपनी problems का हल खुद की ढूंढूगा……… हार नहीं मानूंगा

खुद को अकेला न समझिये …. आप अकेले नहीं हैं …….आप के साथ आपका ज्ञान ,आपकी बुद्धि ,आपका confidence , आपका experience सभी हैं……. और भगवन भी तो आपकी मदद के लिए हमेशा बैठे हैं

दुसरे लोग आपको कभी प्रोत्साहित नहीं करेंगे…आपको खुद ही अपने आप को प्रोत्साहित करना होगा….. दुसरे तो चाहते ही हैं के आप ऊपर न उठ पाएं

एक फैक्ट्री के मालिक को आधी रात को फ़ोन आया के उसकी फैक्ट्री में आग लग गयी है…. वो उसी वक़्त भागा और देखा के सारी फैक्ट्री बुरी तरह से जल रही थी …उसका PA भागता भागता आया “Sir अब क्या बनेगा ?” मालिक बोला” बहुत देर से मेरे मन में यह विचार आता था के यह फैक्ट्री बहुत पुराने style की बनी हुई है इसको नए architecture का बनाना है …..इस आग ने उस विचार को चिंगारी दे दी है ……..अब मैं इसे ultramodern तरीके की factory बनाऊगा

so the moral is :
” Find a silver lining in every dark cloud “

 

LOOK FOR OPPORTUNITIES

अगर failure आ गया है तो निराश होने की बजाय failure के कारण ढूंढ़ने की कोशिश कीजिये…..क्या कमी रह गयी कहाँ रह गयी…इसे कैसे सुधारा जा सकता है …अगर जीवन में एक दरवाजा बंद हो गया तो और कई दरवाजे कुदरत खोल देती है …….लेकिन हम बुद्धू उसी बंद दरवाजे को टकटकी लगाकर देखते रहते हैं …..अपने आप को कोसते रहते हैं….हाय मैं fail हो गया….. जीवन में कुछ कर नहीं पाया …..

हम situations से भागने लगते हैं पर जितना हम भागेंगे उतना ही मुश्किल होता जायेगा problems को solve करना

A problem is a problem only when i call it a problem

HAVE A HAPPY MINDSET
खुश रहने की कोशिश कीजिये….

कुछ लोगों से पूछो ” कैसे हैं आप ”   …..उत्तर मिलता है “बस कट रही है ”
अरे ऐसा क्या हो गया भाई …. Enthusiastic रहिये …छोटी छोटी चीज़ों में ख़ुशी ढूंढिए…

 

24 घंटे सिर्फ वो मत सोचते रहिये जो आप नहीं कर सके या आपके पास नहीं है …बाकि चीज़ों के बारे में भी सोचिये …जैसे आपके पास अच्छा परिवार है अच्छी health है . अपने मन में अच्छे अच्छे विचार लाईये
” You are what you think “
Thoughts shape our world
क्युकी यह जो मन है हमेशा कुछ न कुछ सोचता रहता है ..एक जीवित मन कभी free नहीं बैठ सकता …तो अगर कुछ सोचना ही है तो क्यों न कुछ positive सोचा जाये …अपने बारे में भी और दूसरों के बारे में भी….जब हम दूसरों के बारे में भी कुछ गलत सोचते हैं ,उनकी कमियों या गलतियों के बारे में तो हम भी खुश नहीं रह सकते …..पर फिर भी पता नहीं क्यों human tendency है की हम दूसरो की गलतियां देखते हैं और चुगली करने में कितना आनंद महसूस करते हैं जबकि यह आनंद हरगिज़ नहीं

 

TAKE CARE OF YOUR HEALTH
अपनी health का ध्यान ज़रूर रखें….exercise और अच्छी diet को रोज़ाना जीवन का हिस्सा बनायें….किसी भी प्रकार के नशे की ओर रुख न करें ये सब चीज़ें आपके mind को dull बना देंगी

Healthy mind resides in a healthy body

 

REMEMBER, YOU ARE UNIQUE CREATION OF GOD
आपमें ऐसी कई qualities हैं जो औरों में नहीं हैं इन qualities को celebrate कीजिये ….. have faith and self confidence …
negative emotions न आने दें …….हर वक़्त अपनी problems को कोसते न रहें बल्कि उनका हल निकालने में जुटें
अगर आपका मन negativity से भर जायेगा तो आपको चींटी भी हाथी की भांति दिखाई देने लगती है …..
“Sun definitely rises after a long dark night”…….घनी काली रात के बाद सुबह का उजाला तो यक़ीनन होगा …
कार का उदाहरण लीजिये चाहे 20 लाख की हो पर अगर उसका छोटा सा spark plug काम नहीं कर रहा तो गाड़ी एक कदम भी आगे नहीं चल पायेगी ….अब spark plug की जगह कुछ और पुर्जा तो नहीं लगा सकते न …..अर्थ यह है के सभी की अपनी कोई न कोई speciality है ज़रूरत है सिर्फ उसे सही मायने में पहचानने

तो चलिए आज से कुछ बातों का ध्यान रखें:

1 Exercise को routine का हिस्सा बनाएंगे
2 . खुश रहने का कोई न कोई कारण ढून्ढ निकालेंगे
3 अपने बारे में हमेशा positive विचार सोचेंगे

ऐसी कई छोटी छोटी बातें हो सकती हैं जिनसे हमे नेगेटिविटी से दूर रह सकते हैं और हमेशा खुश रह सकते हैं…..आप भी हमसे अपने जीवन की कुछ ऐसी बातें ज़रूर शेयर करें …………हमे इंतज़ार रहेगा ……..Lets all be happy

 

Author: Monika

Hi, I am Monika, a teacher by profession and a part time blogger by interest. I share my thoughts about life here at AluBhujia . You can find my thoughts in Hindi as well as English language. To me , life is love, life is helping each other & learning from each other.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Skip to toolbar